इंटर कॉलेज में प्रवक्ता कैसे बनें?

इंटर कॉलेज में प्रवक्ता कैसे बनें? 

 

प्रवक्ता समाज शास्त्र: कैसे बने?

दोस्तों, हमारी आज की इस पोस्ट का उद्देश्य यह है,

कि आप यदि उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड द्वारा संचालित ,

पीजीटी परीक्षा पास करके उत्तर प्रदेश के अशासकीय एडेड कालेजों में 

प्रवक्ता बनना चाहते हैं तो आपको इस लेख को अवश्य पढना चाहिए ।

दोस्तों, जैसा कि आप जानते हैं यूपी के अशासकीय कालेजों में

प्रवक्ता ग्रेड टीचर बारहवीं क्लास को पढाते हैं 

तो वहीं ट्रेंड ग्रेजुएट टीचर हाईस्कूल यानी कक्षा 9/10 को पढाते हैं ।

इन दोनों स्तरों के अध्यापक बनने के लिए उत्तर प्रदेश,

माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड द्वारा संचालित टीजीटी,पीजीटी परीक्षा पास करनी पड़ती है ।

इसके बाद साक्षात्कार पास करके आप इन पदों पर नियुक्ति पा सकते हैं ।

इसी नियुक्ति के सपने को पूरा करने के लिए आज आपको यहां कुछ सुझाव देना चाहता हूं ।

जी हां दोस्तों, प्रवक्ता समाज शास्त्र :कैसे बनें

नामक यह पोस्ट आज आपको यही सब बताने वाली है ।

परीक्षा सम्बन्धी जानकारी 

पद का नाम : प्रवक्ता

वेतनमान     :  उत्तर प्रदेश शासन द्वारा निर्धारित प्रवक्ता वेतनमान, महंगाई भत्ता एवं अन्य भत्ते देय होंगे ।

आयु : 21 वर्ष से कम नहीं होनी चाहिए लेकिन अधिकतम सीमा नहीं है ।

शैक्षणिक योग्यता : अभ्यर्थियों को विधि द्वारा स्थापित किसी महाविद्यालय

अथवा 

संस्थान से सम्बंधित विषय में स्नातकोत्तर उपाधि या समकक्ष उपाधिधारक होना चाहिए ।

जरा गौर करें यह बेहद महत्वपूर्ण सूचना है 

चूंकि प्रवक्ता पद के लिए बहुत से विषय निर्धारित हैं,

इसलिए यह जानना  जरूरी हो जाता है कि आप जिस विषय से स्नातकोत्तर हैं ,

उस विषय में प्रवक्ता बनने के लिए किस किस विषय की डिग्री आपके पास होनी चाहिए ।

तो आइए यह भी जान लेते हैं इन पंक्तियों में

●हिन्दी प्रवक्ता पद हेतु हिन्दी में स्नातक उपाधि तथा संस्कृत के साथ बीए ,

अथवा शास्त्री परीक्षा राजकीय संस्कृत कालेज वाराणसी  यानी,

सम्पूर्णा नंद विश्व विद्यालय वाराणसी से होनी चाहिए ।

●हिन्दी में MA के साथ साथ संस्कृत विषय से संस्कृत स्नातकोत्तर  परीक्षा उत्तीर्ण

योग्यता धारी को इंटरमीडिएट कक्षाओं में प्रवक्ता पद पर सीधे नियुक्त

अथवा प्रवक्ता पद पर प्रोन्नति हेतु बी ए में संस्कृत विषय की अनिवार्यता से मुक्ति रहती है ।

●भौतिक विज्ञान के  लिए किसी विश्वविद्यालय से संबंधित विषय में MSc

अथवा उत्तर प्रदेश शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित सम्बंधित विषय में स्नातक डिप्लोमा

के साथ सम्बंधित विषय सहित BSc की डिग्री ।

●रसायन विज्ञान के लिए रसायन विज्ञान में स्नातकोत्तर

अथवा रसायन विज्ञान में तृतीय वर्षीय पाठ्यक्रम  के साथ आनर्स

अथवा यूजीसी द्वारा मान्यता प्राप्त किसी विश्वविद्यालय /डिग्री कालेज से स्नातकोत्तर बायो केमिस्ट्री

अथवा किसी विश्वविद्यालय या डिग्री कालेज से शिक्षा विभाग उत्तर प्रदेश द्वारा

संचालित रसायन विज्ञान में स्नातकोत्तर डिपलोमा के साथ BSc उपाधि ।

●जीवविज्ञान के लिए वनस्पति विज्ञान या जंतु विज्ञान में एमएससी

अथवा किसी विश्वविद्यालय से उत्तर प्रदेश शिक्षा विभाग द्वारा

संचालित वनस्पति विज्ञान

जंतु विज्ञान के स्नातकोत्तर डिप्लोमा के साथ जंतु विज्ञान तथा

वनस्पति विज्ञान सहित बीएससी ।

कुछ अन्य विषय 

सरकारी एडेड यानी अशासकीय इंटर कॉलेजों में ,

यदि आप प्रवक्ता अर्थ शास्त्र बनना चाहते हैं

तो ध्यान रखने योग्य बात यह है ,

कि आपको एम काम, बी काम में अर्थशास्त्र विषय सहित उत्तीर्ण चाहिए ।

●गृह विज्ञान के लिए गृह अर्थव्यवस्था या गृह कला में स्नातक होना चाहिए ।

●कला प्रवक्ता के लिए चित्रकला अथवा रंजन कला में स्नातकोत्तर

उपाधि धारक होना चाहिए ।

●सैन्य विज्ञान प्रवक्ता के लिए सैन्य विज्ञान या प्रति रक्षा अध्ययन में एमएससी या

सैन्य शिक्षा में एमए या फिर एमएससी ।

●तर्क शास्त्र प्रवक्ता के लिए दर्शनशास्त्र में एमए अथवा ,

●बीए ऑनर्स त्रि वर्षीय पाठ्यक्रम दर्शनशास्त्र सहित अथवा तर्क  शास्त्र में एमए ।

●पाली प्रवक्ता के लिए पाली में एमए ।

●संगीत गायन या वादन के लिए संगीत की सम्बंधित शाखा में

स्नातकोत्तर उपाधि अथवा समकक्ष योग्यता धारक भी मान्य हैं ।

अथवा इंटरमीडिएट एक्ट 1921 के अधीन निर्धारित मान्य योग्यता ।

भर्ती प्रक्रिया 

प्रवक्ता पद हेतु चयन लिखित परीक्षा,

विशिष्ट योग्यता एवं साक्षात्कार के आधार पर चयन बोर्ड नियमावली

13 जुलाई 1998 एवं

चयन बोर्ड प्रथम संशोधन नियमावली 7 अगस्त 2001 में विहित प्रक्रिया अनुसार होगी ।

परीक्षा के अंकों का निर्धारण 

अगर आप प्रवक्ता बनना चाहते हैं तो आपको जो परीक्षा देना है ,

उसमें अंकों का विभाजन किस प्रकार होता है यह जानना भी बेहद जरूरी है ।

●लिखित परीक्षा के आधार पर आप को मिलेंगे 85% अंक ।

●साक्षात्कार के लिए निर्धारित हैं 10% अंक ●विशिष्ट योग्यता के आधार पर 5% अंक प्राप्त होते हैं ।

 □जरा ध्यान दें

●पीएचडी /डी फिल वालों को 2% अतिरिक्त अंक मिलते हैं ।

●एमएड के लिए भी दो प्रतिशत  अतिरिक्त अंक मिलते  हैं ।

●बीएड को 1 % अधिक अंक मिलते हैं ।

लेकिन यह अंक तब नही मिलते जब किसी को उपर्युक्त विधि से अंक मिल चुके होते हैं ।

●राज्य टीमके माध्यम से राष्ट्रीय खेल

प्रतियोगिता में भाग लेने वालों को 1% अतिरिक्त अंक मिलते हैं ।

प्रवक्ता प्रश्न पत्र 

प्रवक्ता पद के लिए जिस पीजीटी परीक्षा की यहां चर्चा की जा रही है,
उस परीक्षा का प्रश्न पत्र केवल एक होता है ।
जिसमें सम्बंधित विषय के कुल 125 प्रश्न होते हैं ।
प्रश्न बहु वैकल्पिक होता है
यानी प्रश्न के चार विकल्प में एक विकल्प का चयन करना होते है ।
सही उत्तर को काले पेन से गोला  बनाना होता है ।

धन्यवाद

के पी सिंह किर्तीखेड़ा 12042018

 

 

 

 

About KPSINGH

मैने बचपन से निकल कर जीवन की राहों में आने के बाद सिर्फ यही सीखा है कि "जंग जारी रहनी चाहिए जीत मिले या सीख दोनों अनमोल हैं" मैं परास्नातक समाज शास्त्र की डिग्री लेने के अलावा CTET और UP TET परीक्षाएं पास की हैं ।मैंने देश के हिन्दी राष्ट्रीय समाचार पत्रों और पत्रिकाओं में लेखन किया है जैसे प्रतियोगिता दर्पण विज्ञान प्रगति आदि ।

View all posts by KPSINGH →

2 Comments on “इंटर कॉलेज में प्रवक्ता कैसे बनें?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *