अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस(International Museum Day)

अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस(International Museum Day)

 

 

अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस :-जी हाँ दोस्तो आज हम अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस के बारे में कुछ बताना चाहेंगे।
अंंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस पूरे विश्व में 18 मईको हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता हैै। संग्रहालयों मेंं हमारे पूर्वजों की
अमूल्य चीजोंं को सहेज कर रखा जाता है। उनकी चीजों को देखकर हम उनकी यादों मेें खो जाते हैं और पुरानी से पुरानी बात
हमारे मस्तिष्क मेंं दस्तक देने लगती हैै। उनको याद करने का यह सबसे उत्तम साधन है। विश्व के प्रत्येक देश मेें संग्रहालय
संचालित हैं और हम वहाँ जाकर पुरानी से पुरानी धरोहरों को देखकर अपनी यादों को ताजा कर सकते हैं।लोगों को  बताने के
लिए ,कि हमारे पूू्र्वजोंं की अमूूू्ल्य वस्तुएँ हमारे जीवन के लिए कितना महत्व रखती हैैं, प्रतिवर्ष 18 मई को अंंतर्राष्ट्रीय
संग्रहालय दिवस  मनाने का लक्ष्य रखा गया है। तो दोस्तो इस बारे में और जानकारी हासिल करने की कोशिश करते हैं।

 

 

 

अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस से जुडे़ महत्वपूर्ण तथ्य :-

(1)  सर्वप्रथम 18 मई सन् 1983 को संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस मनाने का निर्णय लिया गया।
(2) अंंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस मनाने का उद्देश्य जनमानस में संंग्रहालयों की महत्ता को बताना है। लोग वहाँ जाएँ और
       पूर्वजों की धरोहरों को जानने हेतु जागरूक बनें।
(3) इस दिन भारत सरकार संग्रहालयों में प्रवेश निःशुल्क कर देती है।

 

 

(4) अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय परिषद प्रतिवर्ष एक विषय का चुुुुनाव करती है और साथ ही साथ इस दिन प्रत्येक जनमानस
       संग्रहालय विशेषज्ञों से मिल सकता है।
(5) संग्रहालयों की कितनी चुनौतियाँ हैं,यह बताने हेतु स्रोत सामग्री विकसित कर जन मानस में वितरित की जाती हैंं।
(6) संग्रहालयों मेें ऐसी चीजें संरक्षित करके रखी जाती हैं,जो मानव की सभ्यता व संस्कृति को याद दिलाने में महत्वपूूर्ण
      योगदान देती हैं।

 

 

(7) संंग्रहालयोंं में रखी वस्तुएँ प्राकृतिक व सांस्कृतिक धरोहरों को प्रकट करती है।
(8) हमारा विकासशील समाज संग्रहालयों की भूमिका के प्रति जागरूक बने, इसी उद्देश्य हेतु प्रतिवर्ष 18 मई को अंतर्राष्ट्रीय
      संग्रहालय दिवस मनाया जाता है।
(9) संग्रहालयों मेें रत्न, आभूषण, शिलाचित्र, पाण्डुलिपियाँ,किताबें,कपडे़,पहनने वाली अन्य वस्तुएँ संजोकर रखी जाती
      हैं,जो पूर्वजों को याद करने में महती भूमिका निभाती हैं।

 

(10) अंंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस पर हमारे देश में कई तरह केे आयोजन करने का प्रचलन है।
(11) उद्देेेश्य यही होता है कि किस तरह छात्र-छात्राओं,शोधार्थियोंं और आम जन मानस को सांस्कृतिक धरोहर की जानकारी
           दें।
(12) देश में लगभग 40 संग्रहालय संचालित हैं जो भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग केे अधीन हैं।

 

 

(13) सन् 2016 केे आँकड़ों के अनुसार इस दिवस को मनाने हेतु विश्व के लगभग 35,000  संग्रहालयों ने हिस्सा लिया।
(14) तो दोस्तो हमारा कर्तव्य भी यही होना चाहिए कि इस दिवस के महत्व को समझकर अपने भाई-बन्धुुुंओं और
          रिश्ततेदारों को जागरूक करें।
(15) उनको प्रोत्साहित करें कि वे आस-पास के संग्रहालयों का भ्रमण करें और भारतीय सभ्यता एवंं संंस्कृति से अवगत होंं।

 

 

(16) साथ ही साथ हमें अपने स्तर पर भी कार्यक्रम आयोजित करने चाहिए,जिससे हम इस दिवस के महत्व और संग्रहालय
          की महत्ता को समझ सकें और समझा सकेंं।
दोस्तो यदि यह जानकारी आपको पसंद आई हो,तो कृपया लाइक,कमेंंट व शेेेयर अवश्य करें।
                                                                                                                                                                          धन्यवाद

2 Comments on “अंतर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस(International Museum Day)”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *