राष्ट्रमंडल दिवस(Common Wealth Day),आइए जानें क्या है यह ?

राष्ट्रमंडल दिवस(Common Wealth Day),आइए जानें क्या है यह ?

 

 

राष्ट्रमंडल दिवस :- जी हाँ दोस्तो आज हम राष्ट्रमंंडल दिवस के बारे मेंं बात करेेंगेे। भारत के साथ-साथ यह राष्ट्रमंडल दिवस
विश्व के अनेक देश मिलकर मनाते हैं। राष्ट्रमंडल देशों की सूची मेें सम्मिलित व समझौते पत्र पर हस्ताक्षर करने वाले देश
ही इस दिवस को मनाते हैं। मानवता की भलाई व दुुुनियाँ मेें शाँति स्थापित करने केे उद्देश्य से यह दिवस मनाने का प्रचलन
है। 53 राष्ट्र मंडलीय सदस्यों की सूूूची में भारत का विशेष स्थान है। इन राष्ट्रमंडलीय सदस्यों मेें अधिकांश वही लोग
सम्मिलित हैं,जो कभी न कभी अंंग्रेेेजों की दासता को झेल चुुके हैं। तो दोस्तो चलिए इस बारे में और जानकारी हासिल करने
की     कोशिश करते हैं।

 

 

राष्ट्रमंडल दिवस से जुुड़े और महत्वपूर्ण तथ्य :-

(1) राष्ट्रमंडल दिवस का मुुख्यालय लंदन(यूनाइटेेेड किंगडम)  में है।
(2) सर्वप्रथम महारानी विक्टोरिया द्वारा सन् 1901 मेें एक संगठन बनाने हेेेेतु विचार बनाया    गया।
(3) इनकी मृत्यु के बाद सन् 1902 मेंं साम्राज्य दिवस (एम्पायर डे) आयोजित किया गया।

 

(4) हैरोल्ड मैकमिलन द्वारा सन् 1958 में इसका नाम परिवर्तित कर राष्ट्रमंडल दिवस(कामनवेल्थ) कर दिया गया।
(5) राष्ट्रमंडल दिवस प्रति वर्ष मार्च महीने के दूसरे सोमवार को मनाया जाता हैै।
(6) सन् 1931 में राष्ट्रमंंडल राष्ट्र का गठन हुआ।

 

(7) कामनवेल्थ सोसाइटी द्वारा प्रस्ताव पारित कर सन् 1973 में  मार्च महीने के दूसरे सोमवार को  राष्ट्रमंंडल दिवस
       मनाने का निर्णय लिया गया।
(8) इसके बाद राष्ट्रमंडल सचिवालय ने मार्च महीने के दूूूसरे सप्ताह मेें राष्ट्रमंडल दिवस मनाने का प्रस्ताव पारित कर
      दिया।
(9) प्रतिवर्ष राष्ट्रमंडल दिवस  किसी न किसी थीम को लेकर मनाया जाता है और सामाजिक मुद्दों को ध्यान में रखकर
      इसका चुनाव  किया जाता है।

 

(10) 12 मार्च 2018 को इस राष्ट्रमंडल दिवस पर एक थीम बनाई गई,जिसका विषय था, “टुवार्ड्स ए कामन फ्यूचर”।
(11) राष्ट्रमंंडल दिवस पर इसके मुख्यालय लंंदन में कई तरह  के सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। यहाँ पर
         सभी देेशों के बच्चे शामिल होकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करते हैं।
(12) इस संगठन में भारत का एक विशिष्ट स्थान है और यह देश भारत की भलाई ,शाँति स्थापित करने व आगे बढ़ने के
        लिए  संंकल्पित है।

 

(13) राष्ट्रमंडल संगठन के सभी देश इस बात पर बल देते हैैं, कि कोई भी देश दूूसरों के मामले में हस्तक्षेप न करेें और उनकी
         समस्या का समाधान किसी न किसी तरह से निकाला जाए।
(14) देश के पूूूर्वजों द्वारा दिए गए बलिदान हेतु भी राष्ट्रमंडल दिवस मनाया जाता है।
(15) जाति-धर्म, अमीरी-गरीबी के भेेदों को भुलाकर राष्ट्रमंडल दिवस  को मनाया जाता है।

 

(16) लगभग 4 बिलियन से अधिक लोग राष्ट्रमंडल दिवस को मनाने हेतु जुड़ चुके हैंं।
(17) पिछले वर्ष राष्ट्रमंडल सदस्यों की सकल घरेेेेलू उत्पादन क्षमता 5 ट्रिलियन रुपये आंकी गई। अब आने वाले तीन सालों
          में 847.56 ट्रिलियन रुपयेे होने की उम्मीद है।
(18) राष्ट्रमंडल सदस्य व गैैैर राष्ट्रमंडल सदस्यों की तुलना करने पर राष्ट्रमंडल सदस्योंं का व्यापार प्रतिशत 19% है।

 

(19) व्यापार करने के मामले मेें विश्व के माने हुए 20 शहरों में लगभग 50% प्रतिशत देश इसी संगठन के हैं, जिनमेें
          सम्मिलित हैैं, दिल्ली, कोलकाता,चेन्नई,बैंगलोर,ढाका,केपटाउन, जोहान्सवर्ग इत्यादि।
(20) राष्ट्रमंडल देशों की जनसंख्या मेंं अधिकांशत: युुवावर्ग है,जो 15 व 30 साल के बीच है। इसलिए इस संगठन का उद्देश्य
         यह है कि इसमें अधिकांशत: युवा वर्ग को शामिल किया जाए।
(21) अफ्रीकी प्रशासन के इब्रााहीम इंडेक्स के अनुुुुसार विश्व के 10 शीर्ष देशों में इस संगठन के सात देश सम्मिलित हैैंं।
तो दोस्तो यह जानकारी आपको कैसी लगी ? यदि पसंद आई हो,तो लाइक,कमेेंट व शेेेयर जरूर करिएगा।
                                                                                                                                                                                                  धन्यवाद

10 Comments on “राष्ट्रमंडल दिवस(Common Wealth Day),आइए जानें क्या है यह ?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *