भारत के महान व्यक्तिव अमीर खुसरो

भारत के महान  व्यक्तिव 

भारत के महान व्यक्तिव भारत की प्रेरणा के स्रोत हैं ।

इनकी प्रेरणा हमें प्रतिपल न केवल जीने का सलीका सिखाती है

बल्कि भारत के महान व्यक्तिव में शामिल उन सैकड़ों लोगों की ही देन है कि

हम भारतीय आज भी पूरी दुनिया में मानवता के मूल्यों को जीने वाले कहलाते हैं ।

हम आज अपनी इस पोस्ट में जिन महा पुरुषों या महान व्यक्तिव की चर्चा करने वाले हैं, 

उनमें अमीर खुसरो साहब का नाम सर्वोपरि है।

आज हम भारत के महान व्यक्तिव अमीर खुसरो जी के

कृतित्व व व्यक्तिव पर चर्चा करेंंगे।

तो आइये 

भारत के महान व्यक्तिव अमीर खुसरो की चर्चा करते हैं कुछ इस तरह :

अमीर खुसरो व्यक्तिव एवं कृतित्व 

अमीर खुसरो मध्य कालीन भारत के एक बेजोड़ कवि,महान संगीतकार,

बेहतरीन लेखक तथा उम्दा सूफी संत थे।

इनका पूरा और वास्तविक नाम अमीर अबुल हसन यामिनुद्दीन खुसरो था  ।

भारत के महान व्यक्तिव अमीर खुसरो का जन्म 1253 ई में

उत्तर प्रदेश के जिला एटा में पटियाली नामक स्थान पर हुआ था।

भारत के महान व्यक्तिव अमीर खुसरो की एक खासियत यह थी कि

इन्होंने सुल्तान बलबन से लेकर सुल्तान मुहम्मद बिन तुगलक तक

कुल सात सुल्तानों का समय देखा था ।

अमीर खुसरो ने अपने जीवन के अंतिम समय में सांसारिक माया मोह का

परित्याग कर दिया था ।

सांसारिक सुख त्यागने के बाद येे सूफी संत सेख निजामुद्दीन

औलिया के शिष्य बन गये थे।

 

उनका अपने गुरु से अत्यंत लगाव जगजाहिर है ।

उनका अपने गुरू औलिया से प्रेम,  और   विश्वास इतना गहरा था कि 

अपने गुरु की मृत्यु के कुछ समय बाद ही अमीर खुसरो ने

1325 ई में इस संसार को त्याग दिया था।

🔴अमीर  खुसरो  के जनक माने जाते हैं।

🔴उन्हें तूतिए ए हिन्द भी कहा जाता है 

🔴अमीर खुसरो का खयाल का जन्म दाता माना जाता है, 

ख्याल उत्तर भारत में हिन्दुस्तानी क्लासिकल संगीत की एक विधा है।

🔴किरान उस सादैन, मिफ्ताह उल फुतूह, आशिका,

नूर सिपर तथा तुगलक नामा अमीर खुसरो द्वारा लिखित महान साहित्यिक रचनाएं हैं।

🔴अमीर खुसरों ने अपनी फारसी तथा भोजपुरी के मिश्रण से बनी

कविताओं को हिन्दवी कहा था 

🔴ख्याल के अतिरिक्त अमीर खुसरो को तराना का भी जनक माना जाता है ।

तराना संगीत की एक खास और प्रसिद्ध विधा का नाम है।

🔴 भारत के महान व्यक्तिव अमीर खुसरो को तबला एवं सितार का भी

आविष्कारक माना जाता है ।

हम आज अगर अमीर खुसरो को याद करते हैं तो इसका सबसे बड़ा कारण

उनका भारतीयता के प्रति सकारात्मक लगाव है।

भारत के महान व्यक्तिव में शामिल अमीर खुसरो का भारत के लिए

किया गया योगदान खास और काबिले गौर है।

जब तक भारत का अस्तित्व है तब तक भारत के इस

महान व्यक्तिव का अस्तित्व कायम रहेगा । 

धन्यवाद

के पी सिंह किर्तीखेड़ा 09082018

 

About kpsingh

मैने बचपन से निकल कर जीवन की राहों में आने के बाद सिर्फ यही सीखा है कि "जंग जारी रहनी चाहिए जीत मिले या सीख दोनों अनमोल हैं" मैं परास्नातक समाज शास्त्र की डिग्री लेने के अलावा CTET और UP TET परीक्षाएं पास की हैं ।मैंने देश के हिन्दी राष्ट्रीय समाचार पत्रों और पत्रिकाओं में लेखन किया है जैसे प्रतियोगिता दर्पण विज्ञान प्रगति आदि ।

View all posts by kpsingh →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *