प्रेम प्रसंग कैसा होता है? How is love affair

प्रेम प्रसंग कैसा होता है? How is love affair

बहुत-बहुत स्वागत है आपका हमारे ब्लॉगिंग में दोस्तों आज हम आपको इस ब्लॉक में बहुत ही खास पोस्ट के बारे में बताने वाले हैं :-

दोस्तों  जो लोंग चरित्रहीन  होते हैं वह चलते समय अजीब एक्टिंग करते हैं उन लक्षणों की दृश्य टेढ़ी-मेढ़ी चलती है कभी बनावट मुस्कुराना मोड़-मोड़ कर पीछे देखना,  चटक मटक कर चलना उस परमात्मा का शौक होता है जो अनंत प्रेम विवाह का रूप से जानी जाती है मैं उनको परमपिता के चलते दोनों को अन्य श्री प्रेम प्रेमिका होती फिर उसकी दशा में भगवान शिव पार्वती वाली होती थी और नगर में रहते और ना घाट के शुभ विवाह शुभ विवाह सफर के नरक बनने वाला होता है.

यदि किसी का प्रेम संबंध भी बन जाए तो सफ़र को अलग बनाने वाला होता है यदि किसी का प्रेम से प्रेम संबंध भी बन जाए तो इस बात का ध्यान अवश्य रखें कि आप समाज की मर्यादा जैसे गोत्र गांव इस बात का ध्यान रखे कि विवाहित रंगला हो जिससे कुल माता पिता माता पिता की इज्जत को ठेस ना पहुंचे गलती तुरंत उस प्रेम को तोड़ दे वह वर्तमान में करने में कोई हानि है परंतु भगवान शिवजी ने पार्वती को कथा कथ इस प्रकार है धन्यवाद दोस्तों

About Joga singh

Mobile phone tips and tricks

View all posts by Joga singh →

2 Comments on “प्रेम प्रसंग कैसा होता है? How is love affair”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *