जवानी आपकी : कायम रखे अनार, ऐसे करें सेवन

अनार से जवानी ताउम्र बनी रहती है

जवानी ताउम्र बनी रहे यह कौन नही चाहता? हकीकत यह है कि दुनिया का हर इंसान इस मंत्र को जानना चाहता है| चाहे अमीर हो या गरीब, बूढा हो या जवान, स्त्री हो या पुरुष सभी जवानी के जोश और जज्बे को तब तक कायम रखना चाहते हैं |
जब तक उनकी आंखें न बंद हो जाएं। सच बात यह भी है कि यह कामना कोई नई कामना नही है बल्कि दुनिया का इतिहास गवाह है कि प्राचीन काल से लेकर आज के आधुनिक तकनीक प्रधान युग तक सभी की यह पहली इच्छा रहती है कि उनकी जवानी का जोश कायम रहे ।इसके लिए कारगर उपाय भी हमारे समाज में प्राचीन काल से ही होते रहे हैं ।
सैकड़ों शोध के बाद जो सबसे कारगर उपाय इन्सान ने सैकड़ों लाखों वर्ष पहले पता किया था वह है “अनार “जी हां दोस्तों उम्र बढने के बाद भी यदि आप न सिर्फ जवान दिखना चाहते हैं बल्कि जवानी का एहसास भी करते रहना चाहते हैं तो आप को नीचे लिखी कुछ बातों पर गौर फरमाने की तत्काल जरूरत है ।

 

कुदरत का हसीन तोहफा है अनार 

 

दोस्तों तमाम वैज्ञानिक परीक्षणों से यह ज्ञात हो चुका है कि अनार वह खजाना है जिसमें जवानी का कभी खत्म न होने वाला भंडार छिपा है ।सच कहें तो अनार महज एक मीठा फल नही बल्कि युवावस्था को लम्बे समय तक बरकरार रखने की सबसे अचूक दवा है ।
ऐसी प्राकृतिक दवा है जिसकी साइड इफेक्ट जैसी कोई कहानी ही नही है ।शायद इसीलिए इसके बारे में कहा जाता है कि एक अनार सौ बीमार ।दरअसल इस कहावत का मतलब भी यही है कि यह एक नही सैकड़ों बीमारियों मे लाभ देने वाली अमूल्य निधि के समान है ।

 

वैज्ञानिकों ने सिद्ध किया है अनार मे छिपे वैज्ञानिक तथ्यों को 

 

अनार मे छिपे हुए एक नहीं सैकड़ों ऐसे तथ्यात्मक राज हैं जिनका आज पर्दाफाश हो गया है ।आपने भी जरूर कभी न कभी यह जरूर सोचा होगा कि आखिर सैकड़ों साल पहले के राजा-महाराजा आखिर किस चीज के सहारे एक नहीं सैकड़ों महिलाओं को अपनी राजीखुशी से रानी बना कर रखते थे ।
दुनिया का हर इन्सान जानता है कि आज के भागमभाग युग में एक औरत को खुश रखना साधारण बात नही है तो फिर पुराने लोग सैकड़ो महिला साथियों को कैसे खुश रख लेते थे ।लेकिन आज यह सिद्ध हो चुका है कि हमारे खानपान मे ही इस हकीकत का राज छिपा है ।
और वह राज कोई राज नही बल्कि फलों का बादशाह अनार है ।जिसका सेवन करके हम अपनी जवानी को ताउम्र बरकरार रख सकते हैं ।

 

अनार जवानी के साथ साथ और भी कुछ देता है 

 

मित्रों यह सच है कि अनार हमारे जोश और जवानी को अमर बनाता है लेकिन सच्चाई सिर्फ इतनी नही है क्योंकि अनार जवानी, जोश के अलावा ह्दय रोग, तनाव और सम्पूर्ण शारीरिक व्याधियों के लिए अद्भुत वरदान साबित हुआ है ।एक नए अध्ययन के मुताबिक अनार डीएनए की उम्र दराज होने की प्रक्रिया को ही धीमा कर देता है ।स्पेन की प्रोबेलटबायो लेबोरेट्री के अध्ययन कर्ताओं ने इस तथ्य का व्यापक परीक्षण किया है ।
अध्ययन कर्ताओं ने एक महीने तक करीब 60 लोगों को परीक्षण के लिए तैयार करने के बाद सभी को अनार का गूदा, छिलका और बीज कैप्सूल की शक्ल में प्रतिदिन एक महीने तक दिया ।इस दौरान अध्ययन कर्ताओं ने उन सभी के शरीर में होने वाली रासायनिक परिवर्तनों और गतिविधियों पर नजर रखा ।इसके साथ ही ऐसे लोगों की तुलना उन लोगों से भी  की गई जो इस तरह के परीक्षण में शामिल नही थे ।जब अध्ययन का विश्लेषण किया गया तो यह तथ्य उभरकर सामने आया कि अनार का सेवन करने वाले लोगों की कोशिकाओं को तोड़ने वाले तत्वों में महत्वपूर्ण कमी आई है ।यह वही तत्व होते हैं जिनके कारण मस्तिष्क, मांसपेशियों, यकृत, गुर्दा के कामकाज पर असर पड़ता है और त्वचा पर उम्र का असर दिखाई देने लगता है ।

अनार की अद्भुत क्षमता और जवानी के जोश में संबंध 

 

विश्व प्रसिद्ध अखबार डेली मेल में छपी खबर के हवाले से यह कहा गया कि अनार में किए गए प्रयोग और उसके आए परिणाम से पूरा वैज्ञानिक जगत उत्साहित है ।क्योंकि अध्ययन में यह साबित हुआ है कि अनार के नियमित सेवन से डीएनए आक्सी डेशन की प्रक्रिया धीमी पड़ जाती है ।यह प्रकिया वास्तव में लोहे की वस्तु में जंग लगने के समान है ।अनार जब कोई नियमित सेवन करता है तो उसे यह लाभ प्राप्त होता है कि यह जंग लगने वाली प्रकिया के ही समान शरीर के डीएनए में होने वाली प्रक्रिया भी धीमी पड़  जाती है अर्थात मनुष्य का शरीर बुढापे की तरफ सरपट दौड़ने की बजाय कछुआ चाल में आ जाता है ।
ब्रिटेन के क्वीन मारग्रेट विश्व विद्यालय के एक शोध दल ने भी अपने शोध में यह पाया है कि अनार का फल प्रौढ़ अवस्था की तमाम समस्याओं को काबू मे करने की क्षमता रखता है इतना ही नही यह एक ऐसा फल है जो काम के तनाव को भी कम करने की क्षमता रखता है ।

 

कुल मिलाकर हमारी इस चर्चा का निष्कर्ष यह है कि यद्यपि हम संसार के नियम को तो नही बदल सकते लेकिन हम अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में होने वाली बेवकूफी से खुद को न सिर्फ बचा सकते हैं बल्कि अगर जरा सी सावधानी बरतें तो हम अपनी काया को भी लम्बे समय तक अंदर और बाहर से मजबूत बना सकते हैं ।यह सोचनीय और विचारणीय है कि हम प्रतिदिन सैकड़ों रुपये की नशाखोरी कर लेते हैं लेकिन जब बात खुद अपनी सेहत की आती है तो इधर-उधर के सबसे घटिया बहाने बनाने लगते हैं ।हमें यद्यपि ऐसा नही करना चाहिए जबकि हम यही करते हैं ।मैं चाहता हूं यदि आप ने भी अपने जीवन में यही गलती की हो तो इस लेख को पढने के बाद एक बार जरूर विचार करें कि सैकड़ो की नशे बाजी से शरीर बर्बाद करना जरूरी है कि अनार के नियमित सेवन से शरीर की शक्ति बढाना जरूरी है? 

धन्यवाद

लेखक के पी सिंह

26022018

 

About kpsingh

मैने बचपन से निकल कर जीवन की राहों में आने के बाद सिर्फ यही सीखा है कि "जंग जारी रहनी चाहिए जीत मिले या सीख दोनों अनमोल हैं" मैं परास्नातक समाज शास्त्र की डिग्री लेने के अलावा CTET और UP TET परीक्षाएं पास की हैं ।मैंने देश के हिन्दी राष्ट्रीय समाचार पत्रों और पत्रिकाओं में लेखन किया है जैसे प्रतियोगिता दर्पण विज्ञान प्रगति आदि ।

View all posts by kpsingh →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *