सम्पन्नता की मास्टर चॉबी The master key of prosperity

सम्पन्नता की मास्टर चॉबी 🗝

नमस्कार दोस्तों क्या आप जानते हैं कि सम्पन्नता का राज क्या है? मान सम्मान कैसे प्राप्त किया जा सकता है ? आइये इस लेख के माध्यम से जानने की कोशिश करें –

       सब का सम्मान करें –

अपने व्यवहार में सबसे बड़ा बदलाव किया जा सकता है सभी लोगों का सम्मान करके।  यदि आप दूसरों का सम्मान करेंगे तो आप देखेंगे कि सामने वाला भी आपका सम्मान करेगा । सोंचो अगर आपने किसी को नमस्ते किया तो सामने वाला नमस्ते या नमस्कार कहे बिना जा सकता है क्या?

आत्म विश्वास

अपने आस-पास बहुत से लोग होते हैं जिसमे से 75% लोग या तो गलत सलाह या तो कुछ भी प्रतिक्रिया नही देने वाले लोग होते हैं और 25%लोग ही सही सलाह देने वाले मिलेंगे वो भी बहुत मुश्किल से, ऐसे में हम सबको सही सलाह पर जाँच परख कर आत्मविश्वास के साथ अमल करना जरूरी है । अपने आप पर भरोसा रखें कि आप जो भी कर रहें हैं सही कर रहें हैं।

      निःस्वार्थ

सम्पन्नता के लय को बढ़ाने व समृद्ध करने वालों के पास सम्पन्नता उसी तरह खीचे चले आते हैं ,जिस तरह चुम्बक की ओर आकर्षित लोहा  खीचा चला आता  है , जिस व्यक्ति के मन में स्वार्थ की भावना होती है वह स्वमं को बेहोशी व नशा जैसे कार्यो में लगा रहता है।

         इंद्रीय नियंत्रण 

 जो अपने इंद्रियो को अपने नियंत्रण में नही रख पाते उनके कार्य व विचार  स्वप्न में देखे सोने के महल जैसा है ,उसे स्वप्न से जागने पर कुछ हाथ नही लगता ,वे अपने पहले जैसे परिस्थिति में आकर खाली रह जाते हैं । इस तरह काम करके अपने मनोकामना अवश्य पूरा कर लेते हैं लेकिन उसकी  कार्यों की उम्र   बहुत ही कम हो

  सपन्नता और दौलत की चाह 

यदि आप सम्पन्नता और दौलत कमाना चाहते हैं तो अपने मन में समृद्धि भावनाओं   को प्रेम से भर लें ,एक महान व सफल व्यक्ति कठोर नही होता ,वह सभी लोगों को देखकर समझ लेता है, गलत व बेईमानी ढंक से कमाये गये दौलत उस व्यक्ति के हाथ से जाने के लिए हजारों रास्ते व सुरंगे  बना लेता है।

दो नंबरी काम का त्याग 

धोखे व स्वार्थ पूर्ण से कमाये हुये दौलत कुछ ही समय बाद अनजानी दिशा में शीघ्र उड़ जाते हैं , किसी को कष्ट दे कर प्राप्त धन हृदय में डर पैदा करता है , ऐसा धन आपको चैन से जीने नही देगा और नही मरने देगा, गलत तरीके से कमाये गये धन मन और शरीर को बीमार करते हैं।यह प्रकृति का नियम है।अतः इन सबसे बचें।

अजीबो गरीब शौंक

अपने पूर्वजों के कारण और स्वयं के द्वारा सम्पन्न लोगों को आपने देखा ही होगा दोनों के व्यवहार में बहुत कुछ अंतर होता है,बहुत सारे धनवान लोगों को नशीले पदार्थों व गलत खान -पान के शौंक होता है, वे गुटखा, शराब व् गांजा जैसे हानिकारक पदार्थों का सेवन करना अपने दिनचर्या में शामिल कर लेते हैं।वे अपने गलत खान-पान के आदतों के कारण अक्सर कई तरह के भयानक रोगों से घिरे रहते हैं।तो अपने मनचले शौक पर काबू रखें।

सौ बात की एक बात यदि आप धन सम्पन्न होकर जीने के अच्छे अंदाज पैदा करना चाहते हैं , तो स्वार्थ,दुनिया के चकाचोंद,धोखा,बेईमानी,अपने अंदर के कठोरता,दूसरों के प्रति कपट और हीन भावना, सम्पन्न होने के लिए शॉर्टकट,किसी का दिल दुखाना,नकारात्मक सोंच,आलसीपन,जैसे कार्यों से दस कदम दूर रहें, अपने आंतरिक अनजाने छिपे भयानक विचार को बदलें और प्रगति के राह पर चल पड़ें देखना आपको सम्पन्नता छप्पर फाड़ के मिलेगी।

लाइक,शेयर व कमेंट करें और मन ना करे तो भी इसे जरूर पढ़ें –

   आखिर कब तक, संघर्ष अब नही

www.splcwo.org

 

 

About LAXMI NARAYAN BANJARE

Block-Bilaigarh, District-Balodabazar State- cg

View all posts by LAXMI NARAYAN BANJARE →

4 Comments on “सम्पन्नता की मास्टर चॉबी The master key of prosperity”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *