डर को कैसे दूर करे secret of victory

डर को कैसे दूर करे secret of victory

 डर को कैसे दूर करे

हेलो दोस्तो मुजे आज इस पोस्ट में आपके अंदर का डर ख़त्म करना है।पहले हम जाने की ये डर हमारे अन्दर आते कैसे है।

     दोस्तो दर बहोत तरीको के होते है,किसीओ बोलने से डर लगता है , किसी को हारने से डर लगता है,कोई रिश्क लेने से डरता है,कोई अकेले रहने से डरता है,ओर ये सारे हमारे डर जो हमारे अंडर होते है,वो हमारी जीत को,हरे परफॉर्मेंस को हमारे रिजल्ट को रोक के रखते है।

सारे दर हमारे आस पास इतो की दीवार की तरह ,जो दीवार तूने खुद ही लगाई है,खुद ही बनाई है,उसके बाद उस दीवार के पीछे खुद ही छूप जाते है।खुदको आराम दयाक स्थिति में बना लेते है,ओर बचके निकल जाते है। जिंदगी भर इन डरो की दीवारों के पीछे छिपे रहते है।

दर को कैसे दूर करे secret of victory

इस डर की दीवार की सुरुआत बचपन मेही हो गयी थी ,जब हमें बोला गया थाना बेटा संभाल के चलना कही चोट ना लग जाये । वहां पे बनी पहली इट, किसीने कहा बेटा फ्यूचर में तुम्हे कोई पुछेगा भी नही वह पे रिजेक्शन का डर, वह पे आया की इंटरव्यू में फैल , गर्लफ्रेंड का ब्रेकअप , छोटी छोटी इतो लगती गयी और ये दीवार बनती गयी।

कल कोई तुम्हे पूछेगा भी नही, अकेले रहने का डर आ गया कि लोग हमेशा प्यार देते रहे। अगर लोगो हमारे साथ न रहे अगर लोगो ने हमे दिसप्रुव कर दिया ,ये सारी दीवारे हम बनाते गये, ओर ये डर के पीछे खुद को छिपाते गए । इस डर कोही अपनी जिंदगी का सच समज लिया । ओर दीवार के पीछे रहने का मंजूर कर लिया और ये फाइनल हो गया कि ये दीवार कभी टूटेगी नही ये दीवार हमेसा बानी रहेगी और इसके पीछे हम छिपे रहेंगे।

लेकिन फ्रेंड्स ये डर की दीवाल तोरा जा सकता है , ओर ये आप खुद अपनी ये डर की दीवार को तोड़ेगे जोकि में बताने वाला हु कैसे लेकिन सबसे पहले एक चीज करना है खुद को बदलना है,अगर हम खुदको नही बदल सकते तो ज़िंदगी मे कुछ नही बदल सकता तो सुरुआत हमे करनी होगी खुद को बदल ने से ।

दोस्तो दर को खत्म करने की पहली पराव है हिम्मत से हिम्मत फैसला लेनी की हिम्मत जो कि डिसाईड करने की जो मेरे अंदर जो दर है उसे खत्म करना है।हिम्मत पहला कदम उठाने की हिम्मत खुदको एक नया मौका देने की सच तो ये है कि वही चीज हम करते है जिसको करने की हमारे पास हिम्मत होती है।

जिसका हमे पता होता है हैम कर लेंगे जो हमारे बस की है , लेकिन जहापे हमे पता होता है कि हम ये नही कर सकते वो काम करने की हम हिम्मत भी नही करते वह पे हम दर के बैठे रहते है।दर की दीवार के पीछे आराम से बैठे रहते है।

लेकिन दोस्तो सच तो ये है कि जरासा भी हिम्मत हम दिखाए तो हर दर को पीछे छोड़ सकते है हर दर की दीवार को तोड़ सकते है क्यों कि जो काम करने में हमे दर लगता है ना वही पे हिम्मत आती है,क्यों कि कुछ लोग हिम्मत के साथ भेद बनकर जीते है और कुछ लोग शेर बनकर जीते है , अगर आपको भेद बनकर जिन है तो पढ़ना बन कर दो ।

लेकिन अगर शेर बनकर जिन है तो आओ अगली चीज को समझते है दोस्तो अगर जो एक बार आपने अगर हिम्मत करली तो दूसरी चीज है जिद अगर जिद हो तो बड़े से बड़े पहाद को चढ़े जा सकता है।अगर जीद हो तो पानी पर भी चल जा सकता है, जिद आपके अंदर आ गयी तो आप बड़े से बड़े दर की दीवार तोड़ सकते हो ओर दर से हमेसा के लिए आजाद हो सकते हो।

दोस्तो जब हिम्मत के साथ जब किसी काम की जिद जुड़ जाती है तो बड़ी से बड़ी दीवार टूट जाती है और आप किसी भी तरह के डर से हमेसा के लिए आजाद हो जाते हो । दोस्तो वो जिद चाहिये की जब तक वो दर खत्म नही होंगे में लड़ूंगा हा मुश्किले आएंगी हा लोग बोलेंगे हा लोग हसेंगे हा खुड़पे सके होंगा लेकिन जिद का मतलब ही यह है कि डेट रहना डेट रहना।

जब जिद आपके अंदर आती है ना तब चूहों से डरने वाले वर्ल्ड डिजनी दुनिया का बेस्टकरेक्टर मिकी माउस बनाते है, जब जिद आपके अंदर हो तो लोगो से डरने वाले ऑडियंस से डरने वाले वोर्रेंत बुफर दुनिया के बेस्ट स्पीकर बन जाते है इन लोगो के डर छोटे नही थे लेकिन इन लोगो की जिद बड़ी थी, दर छोटे नही थे जिद बड़ी थी आप भी अपनी जिद जो इतना बड़ा करो कि कोईभी दर पीछे राह जाए ।

इस डर को अपने अंदर से खत्म करके रहूंगा वो मूवी में गीत थाना की दिल ये जिद्दी है तो किस्मत पिल्ली है जब दिल जिद्दी हो जाएगा ना तो किस्मत पिल्ली हो जाएगी कोनसी ऐसी दर की दीवार है जो अपने बना के रखी है रिलेशन से डर लगता है कि कही में रिजेक्ट न हो जाऊ की इस वजह से डर लगता है कि लोग क्या कहेंगे तो हिम्मत करो खुदको ऐसे मौके देने की की दर खत्म हो जाये ।

एक बात हमेसा याद रखना की हिम्मत सुरुआत कराएगी ओर जिद जीत तक लेके जाएगी । ये ज़िन्दगी जिनि ही है तो हिम्मत के साथ जिद के साथ जिये खुदको मजबूत बना पाएंगे अपने ख्वाब को बढ़ा पाएंगे खुदके स्ट्रेंग्थ को बढ़ा पाएंगे अपने कॉन्फिडेंस बूस्ट कर पाएंगे लेकिन अगर दर से बैठे रहे तो ईनमसे कुछ नही मिलेगा । हिम्मत अगर सार है तो गीत उसका स्वाद है गाये जब साथ मे तो हर दर के आगे जीत मिलती है।

तो दोस्तो जो भी आपके अंदर है उनके आगे हिम्मत करो ओर उसके साथ जिद ले आओ जीत लेके जानेकी। पोस्ट अच्छी लगे तो लाइक ओर कमेन्ट में जरूर लिखना की आप शेर बनकर जिन चाहते हो या भेद बनकर जिन चाहते हो ।ओर इस मोटिवेशन पोस्ट को watsapp ओर facbook पे जरूर शेर करे ताकि कोई भी अपना दर खत्म करना चाहता होगा।

About Aakash khalasi

i am khalasi aakash , i am complet diploma electrical engineering ,and treing in torrent power,but not intrest in compney ,my intrest is writing,so i am live frome surat,

View all posts by Aakash khalasi →

2 Comments on “डर को कैसे दूर करे secret of victory”

  1. आकाश जी आपने अच्छा लिखा है।
    लेकिन डर की जगह दर लिख दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *