चर्मरोग Skin Disease

चर्मरोग (Skin Disease)

लेखक – विनोद सिंह

चर्मरोग बहुत कष्टदायी  होता है। इसमें खुजली होती है। चर्मरोग के कारण हमें शर्मिंदगी का सामना भी करना पड़ता है। चर्मरोग वरसात के दिनों में अधिक होता है।

चर्मरोग कई प्रकार का होता है। दाद, खाज, खुजली, छाजन, फोडा़ फुंसी आदि चर्मरोग होते हैं। चर्मरोग गुप्तांग में होने पर अत्यधिक कष्टकारी हो जाता है।

👍 कारण

अधिक समय तक धूप में काम करने के कारण पसीना आने से और दवाओं के साइड इफेक्ट से चर्मरोग हो जाता है। खून खराब होने और तंग कपडे़ पहनने से भी चर्मरोग हो सकता है। नाइलोन के कपड़े तथा नम कपडों के पहनने से यह रोग हो जाता है। विषैले रसायनों के कारण भी यह रोग हो सकता है। मासिकधर्म की अनियमितता और गैस की समस्या से भी चर्मरोग होता है।  बहुत अधिक मीठा खाने से भी यह रोग हो सकता है।

👌 लक्षण

दाद खाज में त्वचा शुष्क हो जाती है और दाने निकल आते हैं। बाद में दाने लाल रंग के हो जाते हैं। इसमें खुजली जलन और दर्द होता है। पस( मवाद) बन जाती है। छाजन में चमड़ी फटने लगती है। यह बीमारी संक्रामक होती है। खुजलाने से  चर्मरोग और अधिक बढ़ता जाता है।

🎂 परहेज

धूम्रपान और नशीले पदार्थों का सेवन नहीं करना चाहिए। शरीर को अच्छी तरह से साफ रखना चाहिए। अचार ,तैलीय खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं करें। कब्ज से बचना चाहिए। नमक और मीठा कम खाना चाहिए। खट्टे फलों एवं पदार्थों का सेवन न करें। रोगी के कपडों का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

💐 घरेलू उपचार

👍 नीम की पत्तियों को पानी में डालकर उबाल लें और ठंडा होने पर प्रभावित हिस्से को अच्छे प्रकार से धुल लें।

😢 सुबह नीम की मुलायम पत्तियों को खाने से भी यह बीमारी ठीक हो जाती है।

👌 घाव फर नीम के पत्तों का रस लगाना चाहिए।

💐 मूली का रस पीने और लगाने से चर्मरोग ठीक हो जाता है।

🎂 मूली और तिल खाने से पस मवाद ठीक हो जाता है।

👍 सेव खाने और उसका रस लगाने से फोडे़ फुंसी ठीक हो जाते हैं।

💐 रोजाना मूली और गाजर खाने से चेहरा के दाग,धब्बे, झाइयां और कील मुहांसे समाप्त हो जाते हैं।

👌 लहसुन का रस लगाने से चर्मरोग ठीक हो जाता है।

💐 सरसों के तेल में हल्दी मिलाकर लगाने से सूखी त्वचा सही हो जाती है।

🎂 करेला का रस पीने और लगाने से चर्मरोग ठीक हो जाता है।

👌 पालक और गाजर के रस में शहद मिलाकर पीने से त्वचा रोग ठीक हो जाता है।

🎂 प्रभावित स्थान को खुजलाकर उसमें तुलसी के पत्ती का रस लगाने से चर्मरोग सही हो जाता है।

👍 आक का दूध लगाने से चर्मरोग ठीक हो जाता है।

💐 पपीता का दूध लगाने से  दाद ठीक हो जाता है।

😊 पीपल और नीम की छाल पानी में घिसकर लगाने से चर्मरोग सही हो जाता है।

🎂 प्याज भूनकर फोडे़ फुंसी फर बाँधने से ठीक हो जाते हैं।

👌 पपीता, गाजर और खीरा खाने से चर्मरोग ठीक हो जाता है।

💐  पीला गंधक पीसकर सरसों के तेल में मिलाकर लगाने से खुजली मात्र दो दिन में ही ठीक हो जाती है।

👍 महुआ का तेल और हल्दी लगाने से छाजन ठीक हो जाता है।

🎂 सेम की पत्ती का रस लगाने से चर्मरोग ठीक हो जाता है।

👌 सुबह जागते ही मुँह की लार लगाने से चर्मरोग ठीक हो जाता है।

🎂 विशेष

नारियल की खोपडी इकट्ठा करने के बाद इनको मिट्टी के बर्तन में भर लें। उस बर्तन की पेंदी या तली में मसूर के आकार का छेद करके बर्तन का मुँह में ढक्कन को गीली मिट्टी से अच्छी तरह चिपका दें। जमीन में गड्ढा खोदकर गड्ढे के अंदर चौड़े मुँह का धातु का बर्तन रख दें। गड्ढे के ऊपर मिट्टी का बर्तन ( जिसमें नारियल की खोपड़ी भरी है। ) रखें और बर्तन के चारों तरफ उपला कंडा लगाकर आग जला दें। एक घंटे बाद ठंडा होने पर गड्ढे के अंदर से बर्तन निकालकर देखें उसमें काले रंग का तेल होगा। इस तेल को मात्र एक बार लगाने से पुराने से पुराना चर्मरोग ठीक हो जाता है। तेल लगाने से दर्द होता है लेकिन घबडाए  नहीं और बेहिचक प्रयोग करें।

3 Comments on “चर्मरोग Skin Disease”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *