खतरनाक कौन गोरे अंग्रेज या काले अंग्रेज?

खतरनाक कौन गोरे अंग्रेज या काले अंग्रेज? खतरनाक कौन गोरे अंग्रेज या काले अंग्रेज? यह एक ऐसा सवाल है जो आज हम सबके दिल दिमाग में बार बार आता है। …

Read More

दलित भी दोषी हैं जातिवाद को बढ़ावा देने के लिए

दलित भी दोषी हैं जातिवाद को बढ़ावा देने के लिए  दलित भी दोषी हैं जातिवाद को बढ़ावा देने के लिए यह बात कतई हवा में या फिर अपने पूर्वाग्रहों की …

Read More

राष्ट्रीय युवा दिवस और युवा वर्ग

राष्ट्रीय युवा दिवस और युवा वर्ग  राष्ट्रीय युवा दिवस और युवा वर्ग नामक इस पोस्ट का एकमात्र मकसद यही है कि आज राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर हम आप …

Read More

मानवाधिकार दिवस है आज

मानवाधिकार दिवस है आज मानवाधिकार दिवस हैआज जी हां दोस्तों, आज के दिन हर साल यानी 10 दिसम्बर को पूरी दुनिया में विश्व मानवाधिकार दिवस मनाया जाता है। आप जरूर …

Read More

सुप्रीम कोर्ट में सब “ऊटपटांग”

 सुप्रीम कोर्ट में सब   “ऊटपटांग”  सुप्रीम कोर्ट में सब “ऊटपटांग” पढ़ कर आप मुझे निरा मूर्ख कहे कतई नहीं रह सकते। यह मेरा दावा नहीं है लेकिन एक संभावना जरूर …

Read More

जाति और गोत्र में उलझा देश

जाति और गोत्र में   उलझा देश  जाति और गोत्र में उलझा देश बस जाति और गोत्र में ही उलझा रह सकता है। इसका मतलब तो आपको आगे पता चलेगा लेकिन …

Read More

पीजीटी समाज शास्त्र भारतीय समाज शास्त्री

पीजीटी समाज शास्त्र भारतीय समाज शास्त्री  पीजीटी समाज शास्त्र भारतीय समाज शास्त्री नामक इस पोस्ट का मकसद उनकी मदद करना है जो विशेष तौर पर पीजीटी समाज शास्त्र प्रवक्ता परीक्षा …

Read More

अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस

  अंतर्राष्ट्रीय पुरुष  दिवस  अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस की शुरुआत त्रिनिदाद एवं टोबैगो में 19 नवंबर 1999 को हुई थी। आज इसे 30 से ज्यादा देशों में मनाया जाता है। संयुक्त …

Read More

पारिभाषिक शब्दावली समाजशास्त्र

पारिभाषिक शब्दावली समाज शास्त्र  पारिभाषिक शब्दावली समाजशास्त्र नामक इस पोस्ट का मकसद यही है कि आपको किसी भी विषय विशेष की शब्दावली के महत्व को भलीभांति समझने की जरूरत होती …

Read More

मैं तो तपती रेत के हर अश्क में देखूं तुम्हें

मैं तो तपती रेत के हर अश्क में देखूं तुम्हें मैं तो तपती रेत के हर अश्क में देखूं तुम्हें! हां, किरन सच यह है कि मैं सिर्फ तुम से ही …

Read More