SC/ST में 17 नई जातियाँ शामिल SC/ST Me 17 Nayi Jatiyan Shamil

SC/ST में 17 नई जातियाँ शामिल SC/ST Me 17 Nayi Jatiyan Shamil

SC/ST में 17 नई जातियाँ शामिल । जी हाँ दोस्तों, केंद्र सरकार ने एक बड़ा फैसला । लेते हुए कहा है कि । जल्द ही 17 पिछड़े वर्ग की जातियाँ  । sc/st कैटेगरी में मिला दी जाएँगी । उत्तर प्रदेश की ये जातियाँ अभी तक । पिछड़े वर्ग में थीं । मगर केंद्र सरकार ने अपनी राजनितिक । हार को देखते हुए । आगामी चुनाव में अपनी मजबूती । बनाये रखने के उद्देश्य से । इन जातियों को sc/st के । आरक्षण का लालच देकर । अपना वोट बैलेंस बनाये । रखना चाहती है ।

जरा गौर करें

यू पी की पिछली अखिलेश । सरकार ने अपने कार्य काल में इन । जातियों को sc/st में मीलाने की बात । कही थी तब यही केंद्र सरकार । ने इस पर रोक लगा दी थी । और अब जबकि कुछ ही समय । बाद चुनाव है । केंद्र सरकार ने इन्हे sc/st में मिलाने । का फैसला ली है । जरा सोचिये अखिलेश सरकार में ये निति गलत थी । और वर्तमान सरकार में । यही निति सही कैसे हो सकती है । यहां तो ये बात साबित होती है । कि  दूसरों को गलत । और अपने को दूध का धुला  कहने वाले । ये सब सिर्फ सत्ता के लिए करते हैं । इनको देश की जनता की परेशानीयों से । कोई लेना देना नहीं ।

दलित जातियाँ

जिन दलितों को समाज का । सबसे कमजोर हिस्सा मानकर । sc/st कैटेगरी में रखा गया था । अब उनका क्या । क्या इन जातियों के शामिल होने से । दलितों की रोजी-रोटी खतरे में नहीं पड़ जायेगी । पहले ही इस कैटेगरी में कई । जातियों को शामिल किया जा चूका है । जिस आरक्षण पर दलितों का । अधिकार होना चाहिए था । उसपर पहले से ही कई जातियों का । अधिकार बन चूका है । ऐसे में ये 17 जातियाँ और शामिल । हो जाने से दलितों की स्थिति । पर क्या प्रभाव पड़ेगा ये केंद्र सरकार । को अच्छे से पता होना चाहिए ।

शामिल जातियाँ

जिन जातियों को sc/st में शामिल किया जा रहा है । वे जातियाँ मछुआरा, प्रजापति, राजभर, धीमर, कुम्हार, कहार, गौड़, माझी, तुरहा, भर, धीवर, बाथम, केवट, कश्यप, बिंद, मल्लाह और निषाद हैं ।

इन जातियों को sc/st में शामिल करके । सरकार को अपनी कुर्सी । बचाने में सफलता मिल सकती है । परन्तू पहले से ही । गरीबी, भुखमरी और लाचारी झेल रहा । दलित वर्ग अब किस स्तर पर । चला जायेगा चिंतन करने योग्य है ।

ये जानकारी अच्छी । लगी हो तो इसे । like और sare करें ।

धन्यवाद ।

इसे भी पढ़ें 👍👇

सफलता का रास्ता

About Bharti

Sapano ka sansar hai ab to bas chahane walon ka intajar hai.

View all posts by Bharti →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *