मदर्स डे स्पेशल-एक खत मां के नाम

मदर्स डे स्पेशल-एक खत मां के नाम

 

मदर्स डे स्पेशल -एक खत मां  के नाम ,  दोस्तों,  नमस्कार,  जैसा कि हम जानते  हैं १३ मई को  मदर्सडे मनाया जाता है । मदर्स डे स्पेशल – एक खत मां के नाम एक बेटी का अपनी मां को समर्पित एक खत  शेयर कर रहीं हूं ।

 

मां

प्रिय मां,

आपका प्रतिरूप , आपका अंश आपकी बेटी आपका धन्यवाद करती हूं । जो आपने मेरा सृजन इस प्रकार किया कि मैं भी  सफल नारी बन पाई ।

मुझे आपने जीवन के सारे रिश्तों की मर्यादाएें ,जिम्मेदारियां आदि को समझाया ।जिसके फलस्वरूप आज मैं मां, बहिन, बहु,पत्नी, चाची ,मामी, भाभी ,ननद आदि रिश्तों को सफलता पूर्वक निभा रही हुं ।

मां मुझे समाज में कैसे जीना है ,कैसे रहना वो भी आपने ही सिखाया ।

मां मुझे याद है जब आपने मुझे डांटा ।और मैं पूरे  दिन रोती  रही थी।जब पापा आये तो रोते हुए उनको बोला कि आपने मुझे मारा है ।तो पापा ने आपको डांटा ।जब आपने मेरी गलती बताई। तो पापा ने पास में पडे डण्डे से आपके पैरों में मारा ।मैं उस बहुत सहम गई ।कि मेरे कारण आपको कष्ट पहुँचा । मां वो पहला दिन था । जब मुझे पापा पर गुस्सा आया . और आप पर ढेर सारा प्यार। और मैं आपसे दिन भर लिपटी रही ।

Bitiya

मां एक बार जब आपने मुझे दूसरे घर में मूवी देखने पर मेरी चोटी पकड कर मारा ।मुझे अपनी गलती का अहसास हुआ ।मां जब मैं बहुत छोटी थी ।  जानती नहीं थी ।आपने पहला पाठ पढाया ।समाज में किन मर्यादाओं के साथ रहना है ।

मां  ,  मुझे याद है, बचपन में जब हम किसी के भी सामने अस्तव्यस्त अवस्था आ जाते ,तो आप हमें ऑखों में ही इशारा कर वहां से जाने को कहतीं ।और फिर बाद में हमें समझातीं किसी के सामने कैसे खडा होना है ,कैसे बैठना ,कैसे बोलना है ।

मां जैसे ही हम बडे हुए ।आपने हमारी अवस्थाओं के अनुरूप हमैं समझाया  ।आप मेरी सहेली ही बन गईं  । मुझसे वो बातें की जो  की एक बेटी से किशोरावस्था में हर मां को बतानी व कहनी चाहिए ।आपने शारीरिक ,मानसिक बदलाव के झंझावत समझाए। मुझे संयमित रहना सिखाया ।

मां आपको सारे रिश्ते निभाते देखा तो आज में भी सफलता से ये सब कर पा रही हुं  ।

मां मैं आपकी ऋणी हूं । और सदैव रहूंगी । आप त्याग और  ममता की व्याख्या हो । मां ही मां को जन्म देती है यह मैं अब समझी जब मैं भी मां बनी ।

सच  कहूं तो मां शब्द में पूरी सृष्टि समाहित है । मां एक ऐसी कृति है। जो संसार में सर्वोच्च स्थान पर है। पर पापा भी कम नहीं  ।  हमें दोनों के प्यार की आवश्यकता है ।

मां -पापा का आशीर्वाद और साथ सबको मिले ऐसी मेरी कामना है ..

आपकी लाडो

सोनपरी

आशा करती हु़ं ़आप सब भी अपने बडों का आशीर्वाद और प्यार पायें …….

धन्यबाद

 

About Anamika sharma

I am a housewife

View all posts by Anamika sharma →

One Comment on “मदर्स डे स्पेशल-एक खत मां के नाम”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *