आतंकवाद विरोधी दिवस(Anti Terrorism Day),आइए जानें इसे।

आतंकवाद विरोधी दिवस(Anti Terrorism Day),आइए जानें इसे।

 

आतंकवाद विरोधी दिवस :- जी हाँ दोस्तो आज हम आतंकवाद विरोधी दिवस के बारे में बात करना चाहेंंगे। आतंकवाद
विरोधी दिवस देश के प्रधानमंंत्री श्री राजीव गाँधी को श्रद्धांजलि देने के उद्देश्य से मनाया जाता है। इनकी 21 मई  सन् 1991
मेें पेरम्बुदूर, तमिलनाडु में चुनाव प्रचार के दौरान धनु नाम की एक मानव बम के द्वारा हत्या कर दी गई। यह उस समय की
एक ऐसी खबर थी, कि इसने पूरे देश को हिलाकर रख दिया और देेेश की जनता अचंभित रह गयी। वे आम जन सभा को
संबोधित करने वाले ही थे कि कुछ प्रशंसक फूलमालाएंँ लिए रास्ते में खड़े थे। उनसे न रहा गया और एक-एक करके
फूलमालाएँँ स्वीकारना शूरू कर दिया। राजी गाँधी नेे उस समय श्री लंका में शांति स्थापित करने हेतु शांति सेना भेजी हुई थी।
इसी के विरोध में एक आतंंकवादी समूह लिट्टे ने यह आत्मघाती कदम उठाया और धनु नाम की महिला मानव बम द्वारा
इनकी हत्या करा दी गई। इसी उद्देश्य से उनको याद करते हुए ,उनके सम्मान मेंं श्रद्धांंजलि देनेे हेेतु आतंकवाद विरोधी दिवस
मनाया जाता है।

 

 

आतंकवाद विरोधी दिवस से जुड़े और महत्वपूर्ण तथ्य :-

(1) आतंकवाद विरोधी दिवस मनाने का उद्देश्य यही है कि हम किस तरह से आतंकी हिंसा से दूर रहेेें।
(2) आतंकवाद से जनता को होने वाली परेशानी व राष्ट्रीय हितों पर इसके क्या प्रतिकूल प्रभाव पड़ते हैं, इस बात को आम
       जनता के बीच अवगत कराना है।
(3) आतंकवाद विरोधी दिवस मनाना हमारा तब तक पूरा नहीं माना जाता,जब तक हम स्कूल या कालेज मेें बड़े-बड़े
      आयोजन न कर लें।

 

 

(4) इस उद्देश्य को पूरा करने के हेतु आतंकवाद व हिंसा से होने वाले खतरों पर वाद-विवाद,संंगोष्ठी,सेमीनार,व्याख्यान व
       परिचर्चा आदि का आयोजन जरूरी होता है।
(5) आतंकवाद विरोधी दिवस के दिन प्रत्येक व्यक्ति आतंकवाद का विरोध करता है। इसके अतिरिक्त और लोगों को भी वह
      विरोध करने के लिए प्रेरित करता है।
(6) आतंकवाद एक ऐसी बीमारी है जैसे कोढ़ में खाज होना,जिसका इलाज करना मुश्किल हो गया है।

 

 

(7) आतंकवाद विरोधी दिवस मनाने का हमारा यही उद्देेेश्य होना चाहिए कि आतंकवाद से होने वाली हानि से प्रत्येक व्यक्ति
       को जागरूक करें,जिससे भविष्य में ऐसी घटनाएंं न होने पाएं।
(8) आतंकवाद एक ऐसा माहौल होता है,जिसमें हिंसात्मक गतिविधियाँ शामिल होती हैं।
(9) इसमें कुछ ऐसे लोग शामिल होते हैं ,जो अपनी धार्मिक,राजनीतिक,आर्थिक एवं वैचारिक लक्ष्यों को किसी न किसी तरह
       व किसी देश द्वारा पूरा करवाना चाहतेे हैं।

 

 

(10) आतंकवादी  कोई भी हो सकता है,चाहे वो इस्लामी,जिहादी या फिर गैर इस्लामी हो।
(11) हमारा उद्देश्य यही होना चाहिए,कि देश में होने वालेे आयोजनों में प्रत्येक व्यक्ति को आतंकवाद की परिभाषा,
         आतंकवाद कौन फैला सकता है और फिर इससे कैसेे बचा जा सकता है,ये सभी बातें बताई जाएँ।
(12) आतंकवाद विरोधी दिवस मनाने का हमारा उद्देेश्य तभी पूरा होगा,जब तक हम अपने स्तर पर अपने मित्रों व रिश्तेेेदारों
          को इसकी जानकारी न दे दें,जिससे वे हमेेेशा के लिए सजग रहें।
तो दोस्तो यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगी हो,तो लाइक,कमेंंट व शेेेयर करना न भूूूलें।
                                                                                                                                                                                   धन्यवाद

2 Comments on “आतंकवाद विरोधी दिवस(Anti Terrorism Day),आइए जानें इसे।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *