मधुमेह [(शुगर)(डायबिटीज)] को कम करने के घरेलू उपाय,आइए जानें।

मधुमेह [(शुगर)(डायबिटीज)] को कम करने के घरेलू उपाय,आइए जानें।

मधुमेह(शुगर)(डायबिटीज) को कम करने के घरेलू उपाय,आइए जानें।

मधुमेह :-जी हाँँ दोस्तो आज हम मधुमेेेह को कम करने के घरेेलू उपाय के बारे मेें बात करेंगे। आधुनिक जीवन शैली के कारण
आज हमारा शरीर रोगों का घर बन गया है। प्राचीन काल में हमारी दिनचर्या नियमित थी। शारीरिक श्रम करना,स्वच्छ हवा
में साँस लेेेना,शुुद्ध भोजन करना हमारी दिनचर्या में शामिल था। ठीक इसके उलट आज हम मेहनत करने की बजाय अपना
समय मोबाइल और कम्प्यूटर पर बर्बाद कर रहे हैं। घर के शुद्ध व स्वच्छ भोजन को छोड़कर जंक फूड को ज्यादा अहमियत दे
रहे हैं। शारीरिक श्रम के साथ तनाव भी इसका मुुुख्य कारण है,जिस कारण मनुष्य बीमारियोंं की चलती फिरती दुुकान बन
गया है। एक बार इस बीमारी के किसी के भी चपेेेट में आ जाने पर जीवन पर्यंत उसे बनी रहती है। अंंग्रेजी दवाओं को लेेेकर
इसे नियंत्रित किया जा सकता है,परन्तु दवाओं का साइड इफैैैक्ट भी पड़ता है। अगर घरेलू उपचार किया जाए,तो मधुमेह को
नियंत्रित किया जा सकता है। तो दोस्तो चलिए जानने की कोशिश करते हैं कि आखिर क्या हैं ये घरेलू उपाय ?

 

मधुमेह(शुगर)(डायबिटीज) को कम करने के घरेलू उपाय,आइए जानें।

निम्नलिखित घरेेेलू उपाय :-

(A) हल्दी की गुणवत्ता :-

मधुमेह(शुगर)(डायबिटीज) को कम करने के घरेलू उपाय,आइए जानें।

(1) प्रत्येक की रसोई में मौजूद हल्दी विशेेेष उपचार करने हेतु जानी जाती है।
(2) यह ग्लूकोज को नियंत्रित करने के साथ-साथ इस बीमारी के मूल कारण को खोजने में मदद करती हैै।
(3) अपनेे भोजन मेें 2-3 ग्राम हल्दी को शामिल करके इस बीमारी को नियंत्रित किया जा सकता है।
(4) अगर इसे आँँवले के साथ लिया जाए,तो शीघ्रातिशीघ्र परिणाम देखने को मिलते हैं।

 

(B) मैंथी है उपयोगी :-

मधुमेह(शुगर)(डायबिटीज) को कम करने के घरेलू उपाय,आइए जानें।

(1) मैंथी के बीजों में मौजूद एल्कालौइड व ट्रायोनिललाइन नामक तत्व ग्लूकोज के स्तर को कम करने मेें महत्वपूर्ण
       भूमिका निभाते हैैं,क्योंकि ये कार्बोहाइड्रेट के पाचन व अवशोषण की प्रक्रिया को धीमा करने के लिए जाने जाते हैं।
(2) सुबह शाम इसका एक-एक चम्मच पाउडर सेवन करकेे या फिर चाय के साथ प्रयोग किया जा सकता है।

(C) विजयसार कितनी कारगर :-

मधुमेह(शुगर)(डायबिटीज) को कम करने के घरेलू उपाय,आइए जानें।

(1) मधुमेह रोगियों के लिए विजयसार के पेेेेड़ की छाल बहुत ही उपयोगी है।
(2) यह ग्लूकोज के स्तर को नियंत्रित करने के साथ ही इंसुुुलिन को अधिक मात्रा में स्रावित कर शरीर के अतिरिक्त फैैैट को
      निकालने में मदद करती है।
(3) यह ब्लड मेें उपस्थित लिपिड के स्तर को नियंत्रित करने के साथ-साथ मधुमेह से जुुुड़ी अन्य समस्याओं को रोकने मेें
      प्रभावी है।
(4) इसकेे छाल का पाउडर बनाकर सुबह-शाम सेवन करें।

(D) बेलपत्र भी फायदेमंद :-

मधुमेह(शुगर)(डायबिटीज) को कम करने के घरेलू उपाय,आइए जानें।

(1) मधुमेह से पीड़ित व्यक्ति इसका सेेेेवन कर अपनी इस बीमारी को नियंत्रित कर सकते हैं।
(2) बेल के पत्ते को पीसकर निकाले हुुुए रस की 20 मिली मात्रा लेकर,नमक व काली मिर्च मिलाकर प्रतिदिन सेवन
       करें,आराम मिलेगा।

(E) जामुुन भी फायदा पहुँचाए :-

मधुमेह(शुगर)(डायबिटीज) को कम करने के घरेलू उपाय,आइए जानें।

(1) जामुुन में उपस्थित ग्लाइकोसाइड नामक तत्व ग्लूूूकोज के स्तर को नियंत्रित करने में कारगर है।
(2) यह एक ऐसी शक्तिशाली जड़ी बूटी है कि ग्लूकोज को ऊर्जा में परिवर्तित कर मधुमेेेेह के प्रभाव को शीघ्र ही समाप्त करती
       है।
(3) 3 ग्राम इसका पाउडर मठ्ठे के साथ प्रतिदिन लेने से इस बीमारी में बहुत आराम मिलता है।

(F) करेला भी अजमाएँ :-

मधुमेह(शुगर)(डायबिटीज) को कम करने के घरेलू उपाय,आइए जानें।

(1) करेले में पाया जाने वाला चैरान्टिन नामक तत्व ग्लूूूूकोज के स्तर को कम कर देता है।
(2) सुबह खाली पेट करेले के रस का सेेेवन करके ग्लूकोज केे स्तर को कम करने में मदद मिलती है।
(3) करेले के बीजों का पाउडर बनाकर भी इसका सेवन करके ग्लूकोज को नियंत्रित किया जा सकता है।

(G) शिलाजीत भी बहुुत उपयोगी :-मधुमेह(शुगर)(डायबिटीज) को कम करने के घरेलू उपाय,आइए जानें।

(1) शिलाजीत ग्लूकोज को रक्त में प्रवाहित होनेे से रोकता है।
(2) यह अग्नाशय(पैैैन्क्रियाज) को उत्तेेजित कर इंसुलिन को अधिक मात्रा मेेें स्रावित करने में मदद करता है।
(3) प्रतिदिन 100 मिग्रा शिलाजीत का सेवन कर इस बीमारी को नियंत्रित किया जा सकता है।

 

(H) नीम भी करें प्रयोग :-

मधुमेह(शुगर)(डायबिटीज) को कम करने के घरेलू उपाय,आइए जानें।

(1) औषधीय गुणों से युक्त नीम सब जगह मिल जाता है।
(2) कफ दोष को नियंत्रित करने के साथ-साथ ग्लूकोज के स्तर को भी कम कर देता है।
(3) प्रतिदिन नीम केे 4-5 पत्ते चबाकर या फिर नीम के रस का सेवन करके मधुमेेेह को नियंत्रित किया जा सकता है और
       बाहरी तौर पर इंसुलिन पर निर्भरता समाप्त हो जाती है।

(I) गुड़मार भी असरकारी :-

मधुमेह(शुगर)(डायबिटीज) को कम करने के घरेलू उपाय,आइए जानें।

(1) गुड़मार का अर्थ होता है,चीनी को समाप्त करने वाला।
(2) आयुर्वेद में मधुमेह के इलाज हेतु प्रयुक्त होने वाला गुड़मार शरीर के अंग पैन्क्रियाज से अत्यधिक मात्रा में इंसुलिन को
       प्रवाहित कर ग्लूकोज के स्तर को संतुुुलित कर देता है।
(3) गुड़मार की पत्तियों को चबाकर या फिर 400 ग्राम इसके चूर्ण का प्रतिदिन सेेवन कर इस बीमारी में लाभ उठाया जा
       सकता है।
तो दोस्तो यह जानकारी आपको पसंद आई हो,तो लाइक,कमेंट व शेेयर करना न भूलें।
                                                                                                                                                         धन्यवाद

 

लेेेखक
अखिलेश कुमार नागर
अन्य पोस्ट भी पढ़ेेंं 👇👇👇👇👇
(1) भारत रत्न बिस्मिल्लाह खाँ,जिनका गूगल ने बनाया डूडल
(2) चिपको आंदोलन का गूगल ने बनाया डूडल और किया याद

 

8 Comments on “मधुमेह [(शुगर)(डायबिटीज)] को कम करने के घरेलू उपाय,आइए जानें।”

  1. बेहतरीन जनकरी आप बहुत अच्छा पोस्ट लिखे है . इसी तरह की जानकारी लिखते रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *