क्या सेक्स के लिए मूड बनाना जरूरी है

क्या सेक्स के लिए मूड बनाना जरूरी है?

क्या सेक्स के लिए मूड बनाना जरूरी है? या फिर सेक्स में मूड बनने बनाने की बातें फिजूल हैं?

हो सकता है आप भी यही बात जानना चाहते हों

लेकिन आज तक इस बात का सही जवाब न मिल पाया हो।

देखा जाए तो सेक्स एक ऐसा मुद्दा है जो सबसे ज्यादा अननोन है,

लेकिन ताज्जुब की बात यह है कि इसी विषय में देश में सबसे ज्यादा काबिल लोग हैं। 

आप चाहे कहीं भी हों मेरा मतलब चाहे पढे लिखे लोगों के पास हों,

या फिर काला अक्षर भैंस बराबर के पास हों, सभी आपको,

इस अननोन विषय में पलक झपकते ही इतना सारा ज्ञान बांट देंगे,

कि अगर आपने सावधानी न बरती तो बदहजमी जरूरी है।

मेरे कहने का सबसे खास मकसद यह है कि आप

अगर अपनी भलाई चाहते हों तो सेक्स विषय पर

कभी भी सड़क छाप ज्ञान का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

मैं  आपको सेक्स के बारे में  यहां कुछ  प्रामाणिक तथ्यों  से रूबरू कराऊंगा,

बस आपको करना कुछ नहीं केवल इस लेख को पूरा पूरा पढना मात्र है। 

सेक्स और मूड का क्या संबंध है? 

आप सेक्स और मूड की अगर हकीकत जानना चाहते हैं, तो आप को एक काम करना होगा,

आप याद करिए वह दिन जब आपके मम्मी पापा आपके पीछे पीछे,

पागलों की तरह चक्कर काटते रहते थे और आप

केवल यही कहते रहते थे कि मम्मा अभी भूख नहीं है।

यही सीन दोबारा तब देखने को मिलता है जब आपकी पत्नी,

पीछे पीछे खाना खा लीजिए खाना खा लीजिए कहते कहते थक जाती थी. 

और आप आराम से बिना परेशानी भूख लगने का इंतजार करते रहते थे। 

बिल्कुल यही नियम सेक्स में भी लागू होता है श्री मान जी।

जैसे जब तक आपको भूख नहीं लगती तब तक आप खाना की ओर देखते तक नहीं,

ठीक उसी प्रकार जब तक सेक्स का मूड नहीं होता तब तक,

आप सेक्स करना तो दूर सेक्स के बारे में सोचते तक नहीं।

यानी सेक्स की दुनिया में मूड की जरूरत ही नहीं महा जरूरत होती है। 

एक और सच्चाई सेक्स और भूख की 

दोस्तों सच बताना क्या आपने इस बात को गौर किया है कि,

कभी कभी आपकी जरा भी खाना खाने की इच्छा नहीं होती।

इसके बावजूद जैसे ही आप अपने घर में प्रवेश करते हैं तो,

खाने की सुगंध से अचानक आप के मूड का कायाकल्प हो जाता है।

आपको कुछ देर पहले भूख नहीं होती वहीं कुछ ही पलों में,

ऐसी भूख लगती है कि आप सोचने लगते हैं कि चाहे जो भी मिल जाए,

कितना भी क्यों न मिल जाए आज छोडूगा नहीं। 

यही सच्चाई है मूड और सेक्स की यानी सेक्स में मूड की और मूड में सेक्स की।

सरल शब्दों में कहें तो सेक्स बिना मूड के न होता है और न ही होना चाहिए।

जैसे जीवन के लिए केवल पानी ही नहीं बल्कि हवा भी जरूरी है,

ठीक उसी तरह सेक्स के लिए मनी नहीं मूड की भी जरुरत पड़ती है।

कहने का मतलब सिर्फ यह है कि अगर आप यह सोचते हैं कि,

सेक्स के लिए किसी ऊडमूड की जरूरत नहीं होती,

बस मौका मिलते ही टूट पड़ना चाहिए तो आप बहुत बड़ी मिस्टेक कर रहे हैं।

सेक्स बिना मूड के न तो होता है और न ही बिना मूड के सेक्स करना चाहिए।।। 

 

धन्यवाद

KPSINGH 05072018

 

 

 

About KPSINGH

मैने बचपन से निकल कर जीवन की राहों में आने के बाद सिर्फ यही सीखा है कि "जंग जारी रहनी चाहिए जीत मिले या सीख दोनों अनमोल हैं" मैं परास्नातक समाज शास्त्र की डिग्री लेने के अलावा CTET और UP TET परीक्षाएं पास की हैं ।मैंने देश के हिन्दी राष्ट्रीय समाचार पत्रों और पत्रिकाओं में लेखन किया है जैसे प्रतियोगिता दर्पण विज्ञान प्रगति आदि ।

View all posts by KPSINGH →

5 Comments on “क्या सेक्स के लिए मूड बनाना जरूरी है”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *