परीक्षा भवन में रखें धैर्य Keep the Examination in the House

परीक्षा भवन में रखें धैर्य Keep the Examination in the House

 परीक्षा : एग्जामिनेशन हॉल में जब हमें क्वेश्चन पेपर मिलता है, तो कई बार लगता है कि हम सब कुछ भूल चुके हैं। यह एक सामान्य प्रकिया है, जो आमतौर पर सबके साथ होता है। क्वेश्चन पेपर को देखने, पढ़ने और समझने के लिए पन्द्रह मिनट दिये जाते हैं। इसलिए पेपर मिलते ही उसे सॉल्व करने की जल्दबाजी कतई न करें। पन्द्रह मिनट तक क्वेश्चन को सिर्फ़ पढ़ें और प्रश्नों का मतलब अच्छी तरह समझने का प्रयास करें। ( इसे भी पढिये : रोंगटे खड़े कर देने वाला मंदिर )

यदि आपको लगता है कि कुछ क्वेश्चन मुश्किल होने के कारण उन्हें हल करना आसान नहीं है। तो उस पर अधिक समय खर्च करने की बजाय तुरंत उस से अपना ध्यान हटा लें। जिस प्रश्न का उत्तर आपको सबसे अच्छी तरह आता हो, सबसे पहले उसे ही लिखने की कोशिश करें।

कठिन लगने वाले क्वेश्चन को सबसे बाद में हल करें। लिखने से पहले एक बार अपनी आँखें जरूर बंद कर लें और अपने आप से यह कहें कि मुझे सब कुछ आता है। इससे सभी प्रश्नों के जवाब देने का आत्मविश्वास आ जायेगा। यदि आप पहले से ही तनाव में रहेंगे तो फिर परिणाम भी बेहतर नहीं आएंगे।

( इसको भी पढिये : ब्लॉगिंग करके कितना रुपया तक कमाया जा सकता है ? How much money can be earned by blogging!)

ध्यान योग और पावर नैप : –

तैयारी के दौरान स्कूल में सीखे ध्यान और योग को भी करें। पढाई से ध्यान भटकने पर इसे जरूर आजमाएं पावर नैप लें। बहुत ज़्यादा थक जाने पर आँखे बंद कर रिलेक्स होकर आधे घंटे की नींद लें। अलार्म सेट कर लें। गहरी नींद के बाद बिल्कुल रिफ्रेश फील करेंगे।

ये भी देखिए- http://collegestar.in/?p=6862 नवरात्र में फलाहार करने के फायदे

यही है पावर नैप। पावर नैप के बाद हाँथ मुँह धोकर दोबारा पढाई के लिए बैठ जाये। दस मिनट के लिए लाइट म्यूजिक सुनें। उसके बाद पढ़ना शुरू करें |

लेखक- मयंक तिवारी

 

About mayanktiwari104

Mayank Tiwari as a student

View all posts by mayanktiwari104 →

5 Comments on “परीक्षा भवन में रखें धैर्य Keep the Examination in the House”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *