हक की आवाज लगाया हूं,मुझे इंसाफ दीजिए।।

हक की आवाज लगाया हूं,मुझे इंसाफ दीजिए।। हक की आवाज लगाया हूं,मुझे इंसाफ दीजिए।। दोस्तों मै आज एक खास ग़ज़ल लेकर आया हूं।इसे नजर अंदाज ना करना भाई।अगर आप अपने …

Read More

इस बेदर्द दुनिया से हमें लड़ना नहीं आता।।

इस बेदर्द दुनिया से हमें लड़ना नहीं आता।। इस बेदर्द दुनिया से हमें लड़ना नहीं आता।। दोस्तों आपका स्वागत है।आज के इस खास ग़ज़ल में।जिसका शीर्षक है”इस बेदर्द दुनिया से …

Read More

काश ये दुनिया मैखाना होता,हर एक शख्स नशे में होता।शराबी ग़ज़ल।हिंदी उर्दू ग़ज़ल।

काश ये दुनिया मैखाना होता,हर एक शख्स नशे में होता।शराबी ग़ज़ल।हिंदी उर्दू ग़ज़ल। काश ये दुनिया मैखाना होता,हर एक शख्स नशे में होता।शराबी ग़ज़ल।हिंदी उर्दू ग़ज़ल। दोस्तों।आपका स्वागत है ।आज …

Read More

मैं यूं ना तेरे सामने बैठा हूं।तेरी जुल्फें गिरने के इंतजार में बैठा हूं।।

  मैं यूं ना तेरे सामने बैठा हूं।तेरी जुल्फें गिरने के इंतजार में बैठा हूं।। मैं यूं ना तेरे सामने बैठा हूं।तेरी जुल्फें गिरने के इंतजार में बैठा हूं।। दोस्तों …

Read More